home page

रॉयल इनफील्ड की टंकी पर इस जगह क्यों लिखा होता है खास नंबर, जाने क्या होता है इसका मतलब

रॉयल एनफील्ड ब्रांड अपनी भारी भरकम और शानदार बाइकों के लिए दशकों से बाइक प्रेमियों की पहली पसंद रहा है। कंपनी ने अपनी लोकप्रियता को देखते हुए न सिर्फ विभिन्न सीसी वर्गों में बल्कि अलग-अलग डिजाइन और...
 | 
Royal-Enfield-Classic-350-meaning-of-number
   
WhatsApp Group Join Now

रॉयल एनफील्ड ब्रांड अपनी भारी भरकम और शानदार बाइकों के लिए दशकों से बाइक प्रेमियों की पहली पसंद रहा है। कंपनी ने अपनी लोकप्रियता को देखते हुए न सिर्फ विभिन्न सीसी वर्गों में बल्कि अलग-अलग डिजाइन और थीम पर आधारित अनेक मॉडल लॉन्च किए हैं।

रॉयल एनफील्ड के सिग्नल एडिशन मॉडल न सिर्फ एक बाइक प्रेमी के लिए बल्कि इतिहास और गौरव के प्रतीक के रूप में भी खास होते हैं। ये बाइक्स उन लोगों के लिए एक विशेष अर्थ रखती हैं जो भारतीय सेना के साथ इसके गहरे रिश्ते की सराहना करते हैं।

ये भी पढ़िए :- इस मुगल शहजादी ने भाई की जान बचाने के लिए दुश्मन से कर ली थी शादी, पूरी बात जानकर तो आपको भी नही होगा भरोसा

सिग्नल एडिशन की पहचान

विशेष रूप से सिग्नल एडिशन रॉयल एनफील्ड के उन मॉडलों में से एक है जिसे भारतीय सेना के साथ उनके गौरवशाली संबंधों को सम्मानित करने के लिए विशेष रूप से पेश किया गया है। इस एडिशन की बाइक्स अनोखे रंगों और उन पर अंकित विशेष नंबरों के साथ आती हैं।

Royal-Enfield-Classic-350

बाइक पर अंकित नंबरों का महत्व

सिग्नल एडिशन की बाइकों पर अंकित नंबरों में प्रत्येक नंबर का अपना विशेष अर्थ होता है। ये नंबर न केवल बाइक की विशिष्टता को दर्शाते हैं बल्कि यह भी बताते हैं कि यह बाइक किस सीरियल या बैच का हिस्सा है। उदाहरण के लिए 'RE' के साथ शुरू होने वाला नंबर दर्शाता है कि यह बाइक उस सिग्नल एडिशन का हिस्सा है।

ये भी पढ़िए :- हरम में कोई सुंदर कनीज अगर बादशाह को पसंद आती तो क्या होता था, अगली सुबह ही हरम की रानियां ऐसे निकालती थी खुन्नस

ऐतिहासिक संबंधों का प्रतिबिंब

1949 में भारतीय सेना के साथ रॉयल एनफील्ड के जुड़ाव को दर्शाने के लिए '49' नंबर का उपयोग किया जाता है। यह न केवल सेना के साथ उनके पुराने रिश्ते को मनाता है बल्कि यह भी दर्शाता है कि रॉयल एनफील्ड अपनी परंपरा और गौरवशाली इतिहास को किस तरह से संजो के रखता है।