home page

बिना तार बाउंड्री के भी खेत में चाहकर भी नही घुस पाएंगे जंगली जानवर, बस टाइम रहते कर ले ये खास काम

खेती एक ऐसा कार्य है जो अनेक चुनौतियों से भरा पड़ा है। किसानों को न केवल मौसम की मार का सामना करना पड़ता है
 | 
wild-animal-tips
   

खेती एक ऐसा कार्य है जो अनेक चुनौतियों से भरा पड़ा है। किसानों को न केवल मौसम की मार का सामना करना पड़ता है बल्कि जंगली जानवरों द्वारा फसलों को नुकसान पहुँचाना भी एक बड़ी समस्या है। ऐसे में फसलों को सुरक्षित रखने के लिए अक्सर बाड़ लगाने की आवश्यकता पड़ती है जो कि काफी महंगा साबित होता है।

मुफ्त में फसल सुरक्षा

हालांकि आज हम आपके लिए एक ऐसा समाधान लेकर आए हैं जिसमें खर्चा बिलकुल भी नहीं है और फसलों को जानवरों से बचाने में कारगर भी। यदि आप नीलगाय, जंगली सुअर, बंदर जैसे जानवरों से परेशान हैं तो यह घरेलू नुस्खा आपके लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकता है।

घरेलू नुस्खे से तैयार करें अचूक घोल

इस नुस्खे के लिए आपको तीन चीजें चाहिए होंगी नीम की पत्तियां, पानी और गोबर। ये सभी सामग्री गाँव में आसानी से मिल जाएंगी। नीम की पत्तियों को पीसकर उसमें पानी मिलाएं और फिर इस मिश्रण को गोबर के साथ मिला लें। यह मिश्रण एक घंटे तक छोड़ दें ताकि यह अच्छे से मिल जाए।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

फसलों पर कैसे करें उपयोग

इस तैयार किए गए घोल को आपको अपनी फसलों पर छिड़काव करना है। नीम और गोबर का यह मिश्रण न केवल जानवरों को फसलों से दूर रखेगा बल्कि यह एक प्राकृतिक कीटनाशक के रूप में भी काम करेगा। नीम की कड़वाहट और गोबर की गंध से जानवर फसलों के नजदीक नहीं आएंगे।

इस नुस्खे के फायदे

इस घरेलू नुस्खे की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह पर्यावरण के अनुकूल है और इससे किसी भी प्रकार का कोई हानिकारक प्रभाव पर्यावरण पर नहीं पड़ता। इससे किसानों को न केवल अपनी फसलों को जानवरों से बचाने में मदद मिलेगी बल्कि यह उनके खेती के खर्च को भी कम करेगा। इस तरह के उपाय से किसान अपनी मेहनत की कमाई को सुरक्षित रख सकते हैं और बेहतर उत्पादन कर सकते हैं।