home page

Wine Beer: जाने उम्र के हिसाब कितनी पीनी चाहिए शराब, इससे ज्यादा पीने पर शरीर को हो सकते है नुकसान

आज के समय में, जहां शराब (Alcohol) का सेवन एक सामाजिक गतिविधि के रूप में देखा जाता है, वहीं इसके सेवन की सीमा को लेकर अक्सर चिंता जताई जाती है। हाल ही में 'द लैंसेट' (The Lancet) मेडिकल जर्नल में...
 | 
harms of alcohol

आज के समय में, जहां शराब (Alcohol) का सेवन एक सामाजिक गतिविधि के रूप में देखा जाता है, वहीं इसके सेवन की सीमा को लेकर अक्सर चिंता जताई जाती है। हाल ही में 'द लैंसेट' (The Lancet) मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक रिसर्च ने इसी विषय पर प्रकाश डाला है।

जिसमें अलग-अलग उम्र के व्यक्तियों के लिए शराब के सेवन की सही मात्रा का विश्लेषण किया गया है। इस रिसर्च के माध्यम से यह स्पष्ट होता है कि शराब का सेवन करते समय उम्र और स्वास्थ्य को ध्यान में रखना चाहिए।

समझदारी से शराब पीने की सीमा का निर्धारण करना, विशेष रूप से युवा वर्ग के लिए, स्वास्थ्य के लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता है। इससे शराब से जुड़े जोखिमों को कम किया जा सकता है, जिससे एक स्वस्थ और सुरक्षित जीवनशैली सुनिश्चित होती है।

युवाओं पर अल्कोहल के खतरे

इस रिसर्च (Research) में पाया गया कि वृद्ध वयस्कों की तुलना में युवा वर्ग के लिए अल्कोहल का सेवन अधिक खतरनाक (Dangerous) साबित होता है। 'ग्लोबल बर्डन ऑफ डिजीज' (Global Burden of Disease) के विश्लेषण के अनुसार, 204 देशों में अल्कोहल के उपयोग का विश्लेषण किया गया।

जिसमें 1.34 बिलियन लोगों ने हानिकारक मात्रा में अल्कोहल का सेवन किया। इसमें विशेष रूप से 15 से 39 वर्ष की उम्र के पुरुषों में यह प्रवृत्ति सबसे ज्यादा पाई गई।

40 से नीचे के लिए ज्यादा खतरा

विश्लेषण से यह स्पष्ट होता है कि 15 से 39 वर्ष की उम्र के व्यक्तियों, खासकर पुरुषों, के लिए शराब पीना सबसे अधिक खतरनाक (Risky) है। इस उम्र वर्ग में असुरक्षित मात्रा में अल्कोहल लेने वालों का प्रतिशत सबसे अधिक है, जो समग्र स्वास्थ्य पर गंभीर प्रभाव डाल सकता है।

शराब पीने के लिमिट का महत्व

शराब पीने की सीमा (Limit) का निर्धारण करना अत्यंत महत्वपूर्ण है। अधिक मात्रा में शराब का सेवन न केवल शारीरिक स्वास्थ्य (Physical Health) पर बुरा असर डालता है।

बल्कि मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) को भी प्रभावित करता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, वयस्कों को एक हफ्ते में 10 से अधिक और एक दिन में 4 पेग से अधिक शराब नहीं पीनी चाहिए।

शराब पीने की मात्रा और स्वास्थ्य

शराब की मात्रा (Quantity) का सही निर्धारण करने से इसके हानिकारक प्रभावों को कम किया जा सकता है। एक स्टैन्डर्ड ड्रिंक में 30 ml हार्ड अल्कोहल, 150 ml वाइन और 330 ml बीयर को माना जाता है।

इससे अधिक मात्रा में शराब का सेवन व्यक्ति को हेवी ड्रिंकर (Heavy Drinker) की श्रेणी में ला सकता है, जो विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं को आमंत्रित करता है।