home page

इस फ़्लाईओवर के शुरू होने से दिल्ली नोएडा और गाजियाबाद वालों की होगी मौज, निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ्तार

दिल्ली और इसके सटे नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के निवासियों के लिए खुशखबरी है क्योंकि बारापुला फ्लाईओवर के निर्माण कार्य को एक बार फिर से शुरू कर दिया गया है।
 | 
noida-and-ghaziabad-are-happy-barapula
   

दिल्ली और इसके सटे नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के निवासियों के लिए खुशखबरी है क्योंकि बारापुला फ्लाईओवर के निर्माण कार्य को एक बार फिर से शुरू कर दिया गया है। इस फ्लाईओवर का निर्माण उनके दैनिक सफर को आसान बनाने के उद्देश्य से किया जा रहा है जिससे दक्षिणी दिल्ली से पूर्वी दिल्ली के बीच की यात्रा में समय की बचत होगी।

परियोजना के तीसरे चरण का काम जोरों पर

इस परियोजना के तीसरे चरण में मयूर विहार फेज-1 से सराय काले खां तक साढ़े तीन किलोमीटर लंबा फ्लाईओवर बनाया जा रहा है। इस चरण को अगले साल पूरा करने की उम्मीद है जिससे पूरे क्षेत्र की यातायात व्यवस्था में सुधार होगा। यह प्रोजेक्ट पिछले 9 सालों से चल रहा है और इसे 2017 तक पूरा करने का लक्ष्य था लेकिन विभिन्न अड़चनों के कारण इसमें देरी हो गई।

वन विभाग से चुनौतियां और समाधान

फ्लाईओवर के निर्माण में मुख्य अड़चन पर्यावरणीय मानदंडों की वजह से आ रही है। वन विभाग से अभी तक पेड़ों को काटने की अनुमति नहीं मिली है, जिससे परियोजना में देरी हो रही है। इसके अलावा नदी के बीच में सस्पेंशन केबल लगाने के लिए टॉवर बनाने का काम भी जोरों पर है जिससे यह फ्लाईओवर जल्द ही यातायात के लिए तैयार हो सकेगा।

हमारा Whatsapp ग्रूप जॉइन करें Join Now

बारापुला परियोजना के पहले दो फेज का काम पूरा 

बारापुला परियोजना की लंबाई 9.5 किलोमीटर है, जिसे तीन चरणों में पूरा किया जाना है। पहले दो फेज पहले ही सफलतापूर्वक पूरे किए जा चुके हैं, जिसने दिल्ली-NCR के निवासियों को बड़ी राहत प्रदान की है। पहला चरण 2010 में और दूसरा चरण 2015 में पूरा हुआ था जिससे इस क्षेत्र के लोगों को बेहतर यातायात सुविधाएं मिलीं। तीसरे चरण के पूरा होने के बाद यह उम्मीद की जा रही है कि यातायात की समस्याएं और भी कम हो जाएंगी।