home page

यशस्वी जायसवाल के धमाल ने टेस्ट के पहले दिन ही बनाए नए रिकोर्ड, इंग्लैंड के खिलाफ तोड़ डाले ये रिकोर्ड

भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) के आसमान में एक नया सितारा चमक उठा है, जिसका नाम है यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal)। महज 22 साल की उम्र में, यह युवा सलामी बल्लेबाज एक असाधारण उपलब्धि...
 | 
Yashasvi Jaiswal

भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) के आसमान में एक नया सितारा चमक उठा है, जिसका नाम है यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal)। महज 22 साल की उम्र में, यह युवा सलामी बल्लेबाज एक असाधारण उपलब्धि (Extraordinary Achievement) को अपने नाम कर चुका है।

वह घरेलू (Domestic) और विदेशी पिचों (Foreign Pitches) पर टेस्ट शतक (Test Century) जमाने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। इस सम्मान की श्रेणी में उनके साथ महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का नाम भी शामिल है।

नए कीर्तिमान की ओर

यशस्वी जायसवाल ने इस उपलब्धि के साथ ही अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ स्कोर (Best Score) को भी पीछे छोड़ दिया है। पिछले वर्ष, कैरेबियाई सरजमीं (Caribbean Ground) पर अपने टेस्ट पदार्पण (Test Debut) में उन्होंने 171 रन की शानदार पारी खेली थी। उनकी इस पारी में 17 चौके (Fours) और 5 छक्के (Sixes) शामिल थे, जो उनकी बल्लेबाजी के आक्रामक रुख को दर्शाते हैं।

खेल के मैदान पर जादू

इंग्लैंड (England) के खिलाफ हुए मैच में जायसवाल की पारी ने सबका ध्यान खींचा। उनके मैदानी शॉट्स (Ground Shots) और हवा में शॉट्स (Aerial Shots) ने न केवल उनकी बल्लेबाजी की सहजता (Ease) को उजागर किया।

बल्कि उनके विश्वास और तकनीकी कौशल (Technical Skill) को भी प्रदर्शित किया। यह सभी दर्शकों और आलोचकों (Critics) के लिए एक यादगार पल बन गया।

भविष्य की ओर एक नजर

यशस्वी जायसवाल की इस उपलब्धि ने न केवल उन्हें भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) के उज्ज्वल भविष्य के रूप में स्थापित किया है, बल्कि यह भी संकेत दिया है कि भारतीय टीम (Indian Team) में युवा प्रतिभाओं (Young Talents) की कोई कमी नहीं है।

जायसवाल की इस सफलता से युवा खिलाड़ियों को भी प्रेरणा (Inspiration) मिलेगी और वे भी अपने खेल को नई ऊंचाइयों (New Heights) पर ले जाने के लिए प्रेरित होंगे।