home page

बकरी पालन का बिजनेस शुरू करके कर सकते है तगड़ी कमाई, सरकार की तरफ से मिल रही है तगड़ी सब्सिडी

आज के समय में जहां हर कोई बड़े निवेश और जोखिम वाले व्यापार से दूरी बनाए रखना चाहता है वहीं बकरी पालन जैसे व्यापार ने अपनी ज्यादा लाभकारी संभावनाओं के चलते कई उद्यमियों का ध्यान आकर्षित किया है।

 | 
business-idea-start-goat-farming-with-government-
   

आज के समय में जहां हर कोई बड़े निवेश और जोखिम वाले व्यापार से दूरी बनाए रखना चाहता है वहीं बकरी पालन जैसे व्यापार ने अपनी ज्यादा लाभकारी संभावनाओं के चलते कई उद्यमियों का ध्यान आकर्षित किया है।

व्यापार की शुरुआत और सरकारी सहायता

बकरी पालन व्यापार की सबसे बड़ी खासियत है कि इसे कम स्थान और कम निवेश में शुरू किया जा सकता है। इस व्यवसाय की शुरुआत के लिए सरकार की ओर से भी भरपूर मदद मिलती है। केंद्र सरकार 35 प्रतिशत तक की सब्सिडी प्रदान करती है जबकि कुछ राज्य सरकारें, जैसे हरियाणा, 90 प्रतिशत तक सब्सिडी देने की पेशकश करती हैं। इसके अतिरिक्त, NABARD जैसी संस्थाएं भी बकरी पालन के लिए वित्तीय सहायता और लोन की सुविधा प्रदान करती हैं।

कम खर्चे में ज्यादा लाभ

बकरी पालन के व्यवसाय से जुड़े खर्चे काफी कम होते हैं, खासकर जब इसे छोटे पैमाने पर शुरू किया जाता है। एक बकरी को औसतन दो किलो चारा और आधा किलो दाना प्रतिदिन देना पर्याप्त होता है जिससे इसके पालन पोषण में आने वाला खर्च अन्य पशुओं की तुलना में कम होता है।

यह भी पढ़ें; शादी के बाद इन औरतों की आदतों में नही होता कोई सुधार, मौका मिलते ही करना चाहती है ये काम

मुनाफा 

बकरी पालन से महीने में कम से कम 2 लाख रुपये तक की कमाई की संभावना है। बकरी के दूध और मांस की मांग मार्केट में हमेशा बनी रहती है। खासकर, बकरी के दूध को स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है और इसकी मांग मार्केट में अच्छी खासी है। एक रिपोर्ट के अनुसार, 18 फीमेल बकरियों से प्रतिवर्ष 2,16,000 रुपये तक की कमाई संभव है।

बकरी पालन और ग्रामीण अर्थव्यवस्था

बकरी पालन व्यवसाय न केवल व्यक्तिगत लाभ का साधन है बल्कि यह ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने में भी अहम योगदान देता है। इस व्यवसाय के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में रोजगार के अवसर बढ़ते हैं और ग्रामीण अर्थव्यवस्था की रीढ़ को मजबूती मिलती है।