home page

42 साल की उम्र में बिना शादी कीए माँ बनी एकता कपूर, शादी को लेकर लेकर कही चौंका देने वाली बात

80 के दशक के मशहूर अभिनेता जितेंद्र कपूर अब बॉलीवुड इंडस्ट्री से कोसों दूर रहते हैं। सोशल मीडिया पर भी ये अक्सर नजर नहीं आते हैं। एक ओर उनकी दामाद एकता कपूर को टेलीविजन उद्योग में सफलता मिली है; वहीं उनकी बेटी एकता कपूर ने उस क्षेत्र में भी अच्छा प्रदर्शन किया है। 46 साल की होने के बाद भी एकता कपूर अभी तक सिंगल हैं।

 | 
42 साल की उम्र में बिना शादी कीए माँ बनी एकता कपूर

80 के दशक के मशहूर अभिनेता जितेंद्र कपूर अब बॉलीवुड इंडस्ट्री से कोसों दूर रहते हैं। सोशल मीडिया पर भी ये अक्सर नजर नहीं आते हैं। एक ओर उनकी दामाद एकता कपूर को टेलीविजन उद्योग में सफलता मिली है; वहीं उनकी बेटी एकता कपूर ने उस क्षेत्र में भी अच्छा प्रदर्शन किया है। 46 साल की होने के बाद भी एकता कपूर अभी तक सिंगल हैं।

एकता कपूर एक प्रसिद्ध निर्माता और निर्देशक हैं, जिन्होंने कई धारावाहिकों का निर्माण किया है। इसमें कोई शक नहीं है कि एकता कपूर इंडस्ट्री की सबसे सफल टीवी हस्तियों में से एक हैं। एकता कपूर एक सफल टीवी प्रोड्यूसर हैं। उसने वर्षों में 130 से अधिक टेलीविज़न शो बनाए हैं। जब लोग टेलीविजन उद्योग के बारे में बात करते हैं, तो आमतौर पर एकता कपूर का नाम सबसे पहले दिमाग में आता है।

टीवी इंडस्ट्री की है क्वींन

एकता कपूर/ EKTA KAPOOR

बहुत ही कम उम्र में एकता कपूर ने अपने करियर की शुरुआत की थी, सबसे पहले इन्होंने एक इंटरनेट के रूप में काम शुरू किया था. इसके बाद एक के बाद एक कामयाबी हासिल करते हुए आज उन्होंने बहुत ही अच्छा मुकाम हासिल कर लिया है. उन्होंने इतने हिट शो प्रोड्यूस किया कि आज टीवी इंडस्ट्री की क्वीन कहीं जाती हैं.

एकता कपूर के शो हम पांच, क्योंकि सास भी कभी बहू थी, कहानी घर-घर की, कसौटी जिंदगी की, कहीं तो होगा, कसम से, पवित्र रिश्ता, बड़े अच्छे लगते हैं, यह है मोहब्बतें, जोधा-अकबर जैसे पॉपुलर शो प्रोड्यूस कर चुकी हैं.

शादी ना करने की बताई बड़ी वजह

एकता कपूर TV QUEEN/ EKTA KAPOOR TV QUEEN

एकता कपूर के परिवार ने बॉलीवुड में अपना करियर बनाया, इसलिए उन्हें फिल्मी दुनिया में कोई दिलचस्पी नहीं थी। आज भी सिंगल होने के बावजूद फैंस उनसे एक ही सवाल पूछते हैं कि वह शादी कब करेंगी। वह अक्सर अपनी निजी जिंदगी के बारे में दूसरों से चर्चा करती हैं। उन्होंने समझाया कि उन्होंने शादी नहीं करने का एक कारण यह है कि वह बंधन में नहीं बंधना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि इस नई नीति का एक सबसे बड़ा दुष्प्रभाव यह है कि यह लोगों को और अधिक धैर्यवान बनाती है। मुझे लगता है कि मुझमें धैर्य की कमी है, इसलिए मैंने शादी नहीं की। अगर आप अपने वैवाहिक जीवन का सुखद अंत करना चाहते हैं तो आपको धैर्य से काम लेना होगा।