home page

एक ऐसी ट्रेन जिसमें नही होती कोई खिड़की और ना कोई दरवाजा, जाने किस काम आती है NPG Train

भारतीय रेलवे जिसे देश की आर्थिक रीढ़ कहा जाता है। भारतीय रेलवे ने माल परिवहन के क्षेत्र में एक अनूठा कदम उठाया है। एनएमजी (न्यूली मॉडिफाइड गुड्स) ट्रेनें जो कि यात्री ट्रेनों को मालवाहक ट्रेनों में परिवर्तित करके...
 | 
indian railways goods train
   
WhatsApp Group Join Now

भारतीय रेलवे जिसे देश की आर्थिक रीढ़ कहा जाता है। भारतीय रेलवे ने माल परिवहन के क्षेत्र में एक अनूठा कदम उठाया है। एनएमजी (न्यूली मॉडिफाइड गुड्स) ट्रेनें जो कि यात्री ट्रेनों को मालवाहक ट्रेनों में परिवर्तित करके तैयार की जाती हैं।

भारतीय रेलवे ने माल ढुलाई की प्रक्रिया को काफी सरल और कुशल बना दिया है। भारतीय रेलवे द्वारा एनएमजी ट्रेनों का संचालन न केवल परिवहन क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण अवदान है बल्कि यह संसाधनों के संरक्षण और पुनर्चक्रण की दिशा में भी एक सकारात्मक कदम है।

ये भी पढ़िए :- BSNL के सस्ते रिचार्ज ने उड़ाई Jio और Airtel की नींद, मामूली सी कीमत में मिल रही है 365 दिनों की वैलिडिटी

पुराने कोचों का कायाकल्प

इन ट्रेनों की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि ये पुराने यात्री कोचों से बनाई जाती हैं। जब यात्री कोच अपनी सेवा की अवधि पूरी कर लेते हैं। तब उन्हें माल ढोने वाली ट्रेनों में तब्दील कर दिया जाता है। यह प्रक्रिया न केवल संसाधनों का संरक्षण करती है बल्कि पुराने कोचों का उपयोग भी सुनिश्चित करती है।

माल लोडिंग की सुविधा

एनएमजी ट्रेनें माल ढुलाई के लिए विशेष रूप से डिजाइन की गई हैं। इनमें माल लोड करने के लिए खिड़कियाँ और दरवाजे बंद नहीं होते बल्कि लॉक किए जा सकते हैं। यह व्यवस्था न केवल माल की सुरक्षा सुनिश्चित करती है बल्कि लोडिंग और अनलोडिंग प्रक्रिया को भी आसान बनाती है।

विविध प्रकार के माल की ढुलाई

इन ट्रेनों का उपयोग विभिन्न प्रकार के माल जैसे मिनी ट्रक, कार, ट्रैक्टर आदि को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाने के लिए किया जाता है। इससे न केवल परिवहन लागत में कमी आती है बल्कि समय की भी बचत होती है।

ये भी पढ़िए :- कई बार किसी भी चीज को हाथ लगाते है तब कैसे लगता है हल्का करंट, मौसम के कारण नही बल्कि ये है वजह

संरक्षण और स्थिरता के लिए डिजाइन

इन एनएमजी कोचों को यात्री कोचों से बदलकर मालवाहक कोच में परिवर्तित करते समय अंदर की सीटें हटा दी जाती हैं। पंखे और लाइट्स को निकाल दिया जाता है और इन्हें अधिक मजबूत बनाने के लिए लोहे की पट्टियों का इस्तेमाल किया जाता है। यह सभी प्रक्रियाएँ इसे अधिक टिकाऊ और उपयोगी बनाती हैं।